Meri Kahania

इन 8 बैंकों में वरिष्ठ नागरिक FD पर दे रहे हैं सबसे ज्यादा ब्याज!

आरबीआई द्वारा रेपो रेट में एक बार फिर कोई बदलाव नहीं करने पर बैंकों के रुख को लेकर संशय था. कंज्यूमर ये सोच रहे थे कि इसके बाद बैंक इंटरेस्ट रेट पर ब्याज बढ़ाएंगे या कम करेंगे? हालांकि, हाल ही में कई बैंकों ने ब्याज दरों में बढ़ोतरी की है.
 
इन 8 बैंकों में वरिष्ठ नागरिक FD पर दे रहे हैं सबसे ज्यादा ब्याज!

Meri Kahania, New Delhi: कई बैंक अभी भी ऐसे हैं जो वरिष्ठ नागरिकों को सावधि जमा (एफडी) पर 9% और उससे अधिक की ब्याज दरों की पेशकश कर रहे हैं. 2 करोड़ रुपये से कम की एफडी पर ब्याज दरें उपलब्ध हैं.

आइये जानते हैं कुछ ऐसे ही बैंक के बारे में जो एफडी पर सीनियर सिटीजन को 9% से अधिक का ब्याज दर प्रदान कर रहे हैं.

यूनिटी स्मॉल फाइनेंस बैंक

यूनिटी स्मॉल फाइनेंस बैंक वरिष्ठ नागरिकों को 1001 दिनों में परिपक्व होने वाली एफडी पर 9.5% की ब्याज दर प्रदान करता है.

फिनकेयर स्मॉल फाइनेंस बैंक

फिनकेयर स्मॉल फाइनेंस बैंक 750 दिनों में परिपक्व होने वाली एफडी पर वरिष्ठ नागरिकों को 9.21% की ब्याज दर प्रदान करता है.

उत्कर्ष स्माल फाइनेंस बैंक

उत्कर्ष स्मॉल फाइनेंस बैंक वरिष्ठ नागरिकों को दो से तीन साल के बीच परिपक्व होने वाली एफडी पर 9.1% की ब्याज दर प्रदान करता है.

इक्विटास स्मॉल फाइनेंस बैंक

इक्विटास स्मॉल फाइनेंस बैंक वरिष्ठ नागरिकों को 444 दिनों में परिपक्व होने वाली एफडी पर 9% की ब्याज दर प्रदान करता है.

ईएसएएफ स्मॉल फाइनेंस बैंक

ईएसएएफ स्मॉल फाइनेंस बैंक वरिष्ठ नागरिकों को दो से तीन साल के बीच परिपक्व होने वाली एफडी पर 9% की ब्याज दर प्रदान करता है.

जना स्मॉल फाइनेंस बैंक

जना स्मॉल फाइनेंस बैंक दो साल से अधिक से तीन साल से कम के बीच परिपक्व होने वाली एफडी पर 9% की ब्याज दर प्रदान करता है.

कोटक महिंद्रा ने बढ़ाए ब्याज दर

कोटक महिंद्रा बैंक ने 3 साल और उससे अधिक लेकिन 4 साल से कम की अवधि पर ब्याज दर 50 बीपीएस बढ़ाकर 6.50% से बढ़ाकर 7% कर दी है और 4 साल और उससे अधिक लेकिन 5 साल से कम की अवधि पर 75 बीपीएस बढ़ाकर 6.25% से 7% कर दिया है.

बैंक सामान्य नागरिकों को 2.75% से 7.25% और वरिष्ठ नागरिकों के लिए 3.25% से 7.75% के बीच ब्याज दर प्रदान करता है.

बैंक ने सामान्य नागरिकों के लिए 12 महीने 1 दिन से 12 महीने 10 दिन की अवधि पर 10 बीपीएस की बढ़ोतरी कर 7.75% से 7.85% कर दी है. वरिष्ठ नागरिकों के लिए समान अवधि पर इसे 8.25% से बढ़ाकर 8.35% कर दिया गया है.