Greater Noida Expressway पर अब प्राधिकरण कर रहे है काम, जाम से मिलेगा मुक्ति 
Meri Kahania

Greater Noida Expressway पर अब प्राधिकरण कर रहे है काम, जाम से मिलेगा मुक्ति 

Noida-Greater Noida Expressway पर लगने वाले जाम से हर कोई परेशान है और एक बार जाम लगने पर कई घंटों तक रास्ता साफ नहींहोता है। लेकिन अब ऐसा नहीं होगा क्योंकि प्राधिकरण बहुत सारी नई योजनाओं पर काम कर रहा है। जिससे लोगों को जाम से छुटकारा मिलने वाला है... 

 
Greater Noida Expressway पर अब प्राधिकरण कर रहे है काम, जाम से मिलेगा मुक्ति 

Meri Kahania, New Delhi: अगर आप नोएडा-ग्रेटर नोएडा एक्सप्रेस वे पर यात्रा करें तो जाम से दो चार होते होंगे. अगर पीक ऑवर की बात करें तो आप जाम के झाम से मुक्त नहीं हो सकते. लेकिन आने वाले कुछ समय में यह सब बीते दिनों की बात होगी.

दरअलसल नोएडा प्राधिकरण यमुना पुश्ता रोड के जरिए एक वैकल्पिक मार्ग की योजना पर काम कर रहा है. इसके लिए प्राधिकरण ने एसीईओ की अगुवाई में समिति बनाई है जो इस योजना के बारे में विस्तार से अध्ययन करेगी.

आने वाले समय में ट्रैफिक में होगा इजाफा

आने वाले समय में जब 2024 में जेवर एयरपोर्ट काम करना शुरू कर देगा उस समय नोएडा-ग्रेटर नोएडा एक्सप्रेस वे पर वाहनों का दबाव बढ़ जाएगा. यही नहीं दिल्ली से नोएडा होकर ग्रेटर नोएडा और जेवर एयरपोर्ट जाने वाले यात्रियों की संख्या में भी इजाफा होगा.

यमुना पुश्ता रोड का विकल्प मिलने पर नोएडा से सीधे लिंक मिल जाएगा. जानकारों का कहना है कि पीक ऑवर में हर घंटे करीब 25 हजार वाहन गुजरते हैं. अगर एक्सप्रेस वे पर किसी तरह की दुर्घटना हो गई

तो ट्रैफिक में और इजाफा हो जाता है और उसका असर नोएडा की आंतरिक सड़कों पर नजर आने लगता है. करीब 25 किमी लंबे एक्सप्रेव को पहले से और चौड़ा किया गया है. लेकिन गाड़ियों की बढ़ती हुई संख्या को देखते हुए इसके विकल्प की तलाश तेज हो चुकी है.

जेवर के लिए फिलहाल मात्र यही एक लिंक

फिलहाल दिल्ली से जेवर एयरपोर्ट जाने के लिए एक्सप्रेस-वे ही एक लिंक है जो सीधे दिल्ली को यमुना एक्सप्रेस वे से जोड़ता है. यहां रोज एक लाख वाहन निकलते है.

एयरपोर्ट रनिंग के साथ यहां ट्रैफिक भी बढ़ेगा.प्राधिकरण के सीईओ लोकेश एम ने बताया कि हाल ही में प्राधिकरण में एक बैठक हुई. जिसमें प्राधिकरण के एसीईओ, राष्ट्रीय राज्य मार्ग प्राधिकरण, उप्र सिंचाई विभाग,

उप्र राज्य सेतु निगम सलाहकार कंपनी सीईएमसी के प्रतिनिधि शामिल हुए थे। इन सभी ने बैठक में पुश्ता रोड को लेकर चर्चा की.  साथ ही प्रस्तावित मार्ग को धरातल लाने के लिए परस्पर समन्वय बनाकर काम करने के निर्देश दिए गए.

WhatsApp Group Join Now