Bank Merger: सरकार की ओर से आई ये जानकारी, इन बड़े 4 बैंकों का होगा विलय
Meri Kahania

Bank Merger: सरकार की ओर से आई ये जानकारी, इन बड़े 4 बैंकों का होगा विलय

चार बैंकों के मर्जर को लेकर बड़ी खबर आ रही है. इन चार बैंकों के नाम यूनियन बैंक, यूको बैंक, बैंक ऑफ इंडिया और बैंक ऑफ महाराष्ट्र है.
 
Bank Merger: सरकार की ओर से आई ये जानकारी, इन बड़े 4 बैंकों का होगा विलय

Meri Kahania, New Delhi: रिपोर्ट्स के मुताबिक यूनियन बैंक और यूको बैंक का मर्जर हो रहा है, जबकि बैंक ऑफ इंडिया और बैंक ऑफ महाराष्ट्र के मर्जर की खबरें हैं.

हालांकि इस मर्जर को लेकर सरकार की ओर से कोई आधिकारिक जानकारी नहीं दी गई है, न ही एक्सचेंज में किसी तरह की कोई जानकारी है.

इस वायरल खबर पर वित्त मंत्रालय की ओर से कहा गया है कि यह अधीनस्थ विधान पर संसदीय समिति है, बैंक के मर्जर की नीतियों को लेकर इस समिति का दूर-दूर तक कोई नाता नहीं है. वित्त मंत्रालय की ओर से ये भी कहा गया कि यह संसदीय समिति की छुट्टी की जानकारी है.

बैंक मर्जर की पूरी खबर एक कथित सरकारी पीडीएफ के सामने आने के बाद शुरू हुई है. ये पीडीएफ भारत सरकार के अंडर सेक्रेटरी रमेश यादव के नाम से जारी हुआ है,

जो भारतीय रिजर्व बैंक के गवर्नर, एलआईसी के चेयरमैन, IRDAI के चेयरमैन, NABARD के चेयरमैन, यूको बैंक के एमडी और सीईओ, बैंक ऑफ महाराष्ट्र के एमडी और सीईओ, बैंक ऑफ इंडिया के एमडी और सीईओ, यूनियन बैंक के एमडी और सीईओ सहित कई बड़े अधिकारियों को संबंधित करते हुए जारी की गई है.

सीएनबीसी आवाज़ के मुताबिक ये दस्तावेज सही है लेकिन ये भी सही है कि यूनियन बैंक और यूको बैंक के अलावा बैंक ऑफ इंडिया और बैंक ऑफ महाराष्ट्र के बीच मर्जर को लेकर किसी प्रस्ताव पर वित्त मंत्रालय ने कोई विचार नहीं किया है. सूत्रों के मुताबिक अभी किसी बैंक का मर्जर नहीं होने जा रहा है.

इस पीडीएफ में लोकसभा की सर्बोर्डिनेट लेजिलेशन कमेटी के स्टडी विजट प्रोग्राम का जिक्र किया गया है जिसमें बताया गया है कि दो दिन के इस विजिट प्रोग्राम में 2 जनवरी मंगलवार को यूनियन बैंक ऑफ इंडिया और यूको बैंक ऑफ इंडिया के प्रतिनिधि बैंकिंग रेगुलेशन एक्ट 1949 और अन्य संबंधित एक्ट के तहत- दोनों बैंकों के मर्जर पर एक गैर-औपचारिक डिस्कशन करेंगे.

बैंक ऑफ महाराष्ट्र और बैंक ऑफ इंडिया का मर्जर

इसी तरह कथित सरकारी पीडीएफ में लिखा है कि 06 जनवरी 2024 शनिवार के दिन बैंक ऑफ इंडिया और बैंक ऑफ महाराष्ट्र के प्रतिनिधियों के बीच मर्जर से पहले होने वाली गैर-औपचारिक बातचीत का शेड्यूल तय किया गया है.

पीडीएफ में जानकारी दी गई है कि दोनों बैंकों के बीच मर्जर से पहले होने वाली ये बातचीत बैंकिंग रेगुलेशन एक्ट 1949 और अन्य संबंधित एक्ट के तहत होंगी.

मर्जर शब्द हटेगा

मर्जर की खबरों के बीच वित्त मंत्रालय ने अपनी बैठक के एजेंडा में बदलाव किया. नए एजेंडा के मुताबिक “Merger” शब्द का कोई जिक्र नहीं है. इसका सीधा मतलब हुआ कि यूनियन बैंक ऑफ इंडिया और यूको बैंक, बैंक ऑफ इंडिया और बैंक ऑफ महाराष्ट्र के बीच मर्जर का कोई प्रस्ताव नहीं है.

शेयर के भाव में उछाल

शुक्रवार को बंद होने से पहले बाजार में यूको बैंक के शेयरों में उछाल दर्ज हुई. ये उछाल 1.12 फीसदी की थी. इस उछाल के साथ यूको बैंक का शेयर 40.70 रुपये पर जाकर बंद हुआ.

यूनियन बैंक ऑफ इंडिया के शेयर प्राइज की बात करें तो शुक्रवार को वो 3.92 फीसदी की उछाल के साथ 128.50 रुपये पर बंद हुआ है. यूनियन बैंक ऑफ इंडिया के शेयर में शुक्रवार के दिन 4.85 फीसदी की तेजी दर्ज हुई थी.
 

WhatsApp Group Join Now