Home loan: ये 4 तरकीबें आपको होम लोन के झंझट से तुरंत राहत दिलाएंगी
Meri Kahania

Home loan: ये 4 तरकीबें आपको होम लोन के झंझट से तुरंत राहत दिलाएंगी

लोन लेना चाहिए या नहीं. कई बार लोन जरूरत की वजह से लिया जाता है. कई बार लोन टैक्स बचाने की नीयत से भी लिया जाता है. दोनों ही सूरत में लोन चुकाने में ब्याज देना होता है।
 
RBI ने बैंक ग्राहकों को दिया बड़ा झटका, लागू हुए नए नियम, जानें डिटेल

Meri Kahania, New Delhi: पर्सनल लोन (Personal Loan) का ब्याज प्रतिशत ज्यादा होता है और इससे भी ज्यादा होता है क्रेडिट कार्ड से लोन (Credit Card Loan) लेना और उसे चुकता करना. सभी लोन को चुकाने का समय भी अलग-अलग होता है.

सबसे लंबा समय जो लोन चलता है वह होम लोन (Home loan) होता है. बैंकों के लिए यह लोन सीक्योर लोन होता है. क्योंकि लोन लेने के समय मकान पर मालिकाना हक बैंक का हो जाता है और बैंक को पास मकान से जुड़े सर्वाधिकार हो जाते हैं. लोन चुकता न कर पाने की सूरत में बैंक अपने अधिकारों का प्रयोग करता है।

वैसे कई वेल्थ क्रिएटर स्पष्ट रूप से कहते हैं कि मकान के लिए लोन लेना अब ठीक नहीं है. उनका मानना है कि जितना पैसा लेकर आदमी लोन पर घर खरीदता है

उससे ज्यादा वह उस वे ब्याज कमाकर ज्यादा बेहतर जीवन व्यतीत कर सकता है. खैर ये समझ समझ का फेर है. किसी के लिए घर जरूरी है तो किसी के लिए किराए के मकान से काम चल जाता है।

सवाल यह है कि जब एक बार आदमी लोन के चक्कर में आ जाता है, चाहे जो भी कारण हो, तो उसे चुकाना ही एक मात्र विकल्प रह जाता है. अब लोन को जितना जल्दी चुकाया जाए उतना ही अच्छा होता है. इस बात में किसी भी जानकार की राय अलग नहीं है।

लोन जितना जल्दी अपने सिर से उतारा जाए परिवार के वित्तीय हालात उतना जल्दी सुदृढ़ बनते जाते हैं. यानी परिवार की माली स्थिति और वित्तीय स्थिति में सुधार के साथ पैसे को लेकर आत्मविश्वास बढ़ता जाता है।

यह इसलिए कहा जाता है क्योंकि लोन एक समय के बाद ज्यादातर लोगों को डराने लगता है और यह भी दिक्कत लगने लगती है लोन कैसे जल्दी खत्म होगा. कभी कभी लगने लगता है कि किसी चक्रव्यूह में फंस से गए हैं।

What is the formula to clear home loan early - वित्तीय मामलों को जानकार बताते हैं कि होम लोन को आसानी से उतारने के कुछ फॉर्मूला हैं.

अमूमन लोग होम लोन 20-21 साल के लिए लेते हैं. ये बड़ा इत्तेफ़ाक है कि ज्यादातर लोगों का लोन इस समय अवधि के लिए होता है. यह अलग बात है कि इस समय अवधि को लेने वाला अपनी सहूलियत के हिसाब से कुछ साल आगे पीछे कर सकता है।

कुछ रकम ईएमआई से ज्यादा दें

होम को जल्दी समाप्त करने के लिए ज्यादातर जानकार कहते हैं कि आप लोन समय से पहले खत्म करने के लिए अपने रेगुलर इंस्टालमेंट (ईएमआई) के अलावा कुछ रकम ज्यादा दें ताकि प्रिंसिपल से यह रकम जल्द से जल्द कम हो. कुछ लोगों का कहना है कि हर साल कुछ किस्त ज्यादा भरी जाए यानि किस्त के अमाउंट के बराबर रकम लोन खाते में भर दी जाए ताकि लोन के प्रिंसिपल अमाउंट को कम किया जा सके।

इसे इस प्रकार समझा जा सकता है... आंकड़ा कुछ हेरफेर संभव है लेकिन मोटा-मोटा ऐसा ही फॉर्मूला मिलता है. यहां पर केवल आपको समझाने के इरादे से यह जानकारी दी जा रही है. अच्छा है कि आप अपने पास किसी जानकार से राय लेकर एक बेहतर फॉर्मूला तय करें क्योंकि फॉर्मूला तय करने में आपकी मासिक कमाई और बचत काफी अहम रोल अदा करते हैं. हर परिवार या व्यक्ति  अपना खर्चा और खर्चे करने की आदत होती है।

  •  अगर आप लोन बैलेंस का 5 प्रतिशत हर साल ज्यादा जमा करते हैं तो आप 20 के लोन को 12 साल में ही समाप्त कर सकते हैं. कारण यह है कि जब आप लोन लेते हैं तब से लेकर कुछ ही सालों में आपकी आय बढ़ चुकी होती है. लेकिन अधिकतर लोग इस बढ़ी आय का हिस्सा लोन को चुकाने में नहीं लगाते हैं।
  • अगर आप हर साल एक अधिक ईएमआई के जितना पैसा खाते में जमा करते हैं तो आप इसी 20 साल के लोन को 17 साल में खत्म कर सकते हैं।
  • यदि कोई भी लेनदार बैंक से बात करके अपनी ईएमआई को 5 प्रतिशत से बढ़ा लेता है तो वह इसी 20 साल के लोन को 13 साल में पूरा कर लेगा।
  • अगर आप 10 प्रतिशत के हिसाब से ईएमआई को बढ़ा लेते हैं तो आप 10 साल में लोन खत्म करते हैं।
WhatsApp Group Join Now