Savings Account में इतना पैसा रखने पर घर आएगा IT का नोटिस, जारी हुई लिमिट 
Meri Kahania

Savings Account में इतना पैसा रखने पर घर आएगा IT का नोटिस, जारी हुई लिमिट 

Saving Account: बैंक में सेविंग अकाउंट आज के समय में हर कोई रखता है। आप अपनी मर्जी के अनुसार इस खाते में पैसा जमा करवा सकते हैं और निकलवा सकते हैं। आपको ये भी जान लेना चाहिए कि आप एक लिमिट में ही सेविंग खाते में पैसे रख सकते हैं। अगर आप इस लिमिट से ज्यादा पैसे अपने खाते में रखते हैं तो इस पर आपको नोटिस भेजा जा सकता है। 
 
Savings Account में इतना पैसा रखने पर घर आएगा IT का नोटिस, जारी हुई लिमिट 

Meri Kahania, Digital Desk- नई दिल्ली: सेविंग्स अकाउंट कोई भी खुलवा सकता है। इसमें अधिकतम बैलेंस को लेकर कोई लिमिट सेट नहीं की गई है। हालांकि आपके सेविंग्स अकाउंट में एक लिमिट से ज्यादा पैसे जमा किए जाते हैं 

तो इसकी सूचना तुरंत इनकम टैक्स डिपार्टमेंट को देनी होती है। ऐसा नहीं करने पर आपको बाद में परेशानी झेलनी पड़ सकती है। मौजूदा समय में हर किसी के पास कम से कम एक सेविंग्स अकाउंट जरूर होता है। 

यह आपको अपने फाइनेंस को मैनेज करने में काफी सुविधा देता है। इसमें पैसे जमा करना और निकालना भी बेहद आसान होता है। यही कारण है कि ज्यादातर लोग अपने रोजमर्रा के बैंकिंग से जुड़े कामकाज इसी के जरिए पूरा करते हैं। 

देश में ऑनलाइन पेमेंट और यूपीआई की सुविधा आने के बाद इसका उपयोग और भी बढ़ गया है। लेकिन क्या आप जानते हैं कि सेविंग्स अकाउंट के लिए भी इनकम टैक्स द्वारा कुछ लिमिट्स तय की गई है।

सेविंग अकाउंट में कितने रुपये कर सकते हैं जमा?

अलग-अलग बैंकों की ओर से सेविंग्स अकाउंट के साथ अलग-अलग तरह की सुविधाएं दी जाती है। ज्यादातर लोग सेविंग्स अकाउंट के जरिए ही अपने बैंकिंग से जुड़े अधिकतर कामकाज करते हैं। 

हालांकि, ज्यादातर बैंकों के सेविंग अकाउंट में अधिकतम पैसे जमा करने को लेकर कोई लिमिट तय नहीं की गई है। लेकिन आपको 10 लाख रुपये से ज्यादा राशि सेविंग अकाउंट में जमा करने पर इसकी जानकारी इनकम टैक्स डिपार्टमेंट को देना जरूरी है। 

यही नियम फिक्स्ड डिपॉजिट, म्यूचुअल फंड, बॉन्ड और शेयरों में किए गए निवेश पर भी लागू होता है।

सेविंग अकाउंट के ब्याज पर लगता है टैक्स

किसी एक वित्तीय वर्ष में आपके सेविंग अकाउंट में जमा राशि पर मिलने वाले ब्याज पर भी आपको टैक्स देना होता है। इनकम टैक्स एक्ट के तहत, किसी भी इंडिविजुअल अकाउंट होल्डर को अगर एक वित्त वर्ष में सेविंग्स अकाउंट पर 10,000 रुपये से अधिक ब्याज मिलता है

तो उसे टैक्स देना पड़ता है। सीनियर सिटीजन को इसमें 50,000 रुपये तक छूट दी गई है। इसके अलावा सेविंग अकाउंट को आपके किसी दूसरे इनकम सोर्स से जोड़ने पर भी टैक्स देना होता है।

सेविंग अकाउंट में जमा पर कितना मिलता है ब्याज?

देश के प्रमुख पब्लिक और प्राइवेट सेक्टर के सेविंग अकाउंट में जमा पर 2.70 फीसदी से 4 फीसदी तक ब्याज देते हैं। सेविंग्स अकाउंट में जमा 10 करोड़ रुपये तक के बैलेंस पर ब्याज दर 2।70 फीसदी है 

और 10 करोड़ रुपये से अधिक की राशि पर यह दर 3 फीसदी है। हालांकि, कुछ स्मॉल फाइनेंस बैंक सेविंग्स अकाउंट पर आपको शर्तों के साथ 7 फीसदी तक भी ब्याज देते हैं।

WhatsApp Group Join Now