Meri Kahania

Savings Account: सेविंग अकाउंट पर मिलेगा बंपर ब्याज, नहीं लिया तो पछताओगे

Savings Account Interest Rate: देश में ऐसे कई सारे बैंक हैं जो कि ग्राहकों को लुभाने के लिए खास तरह की स्कीम पेश करती हैं। जिसका लोगों को अच्छा खासा लाभ मिलता है।
 
Savings Account: सेविंग अकाउंट पर मिलेगा बंपर ब्याज, नहीं लिया तो पछताओगे

Meri Kahania, New Delhi: हमने एक लिस्ट की है जिसमें ये बताया जा रहा है कि बैंक लोगों को सेविंग खाते पर साधारण ब्याज के मुकाबले एक्स्ट्रा ब्याज दे रहा है। जिसके बाद ग्राहकों को काफी लाभ प्राप्त होगा। यहां पर बैंक में पैसा जमा करने पर 8 फीसदी की दर से ब्याज दिया जा रहा है।

डीसीबी बैंक सेविंग खाता

DCB बैंक की तरफ से 10 लाख रुपये से लेकर 2 करोड़ तक के बैलेंस पर 8 फीसदी तक का ब्याज प्रदान किया जा रहा है। DCB Bank 10 करोड़ से लेकर 200 करोड़ से कम के बैलेंस पर 7.75 फीसदी का ब्याज दिया जा रहा है।

आईडीएफसी फर्स्ट बैंक

IDFC फर्स्ट बैंक की तरफ से 5 लाख रुपये से लेकर 25 करोड़ से कम के बैलेंस पर 7 फीसदी तक का ब्याज दिया जा रहा है। बैंक के द्वारा 3 फीसदी से लेकर 7 फीसदी तक का ब्याज पेश किया जा रहा है। ये नई ब्याज दरों को 1 अक्टूबर 2023 से लागू है।

सर्वोदय स्मॉल फाइनेंस बैंक

सूर्योदय स्मॉल फाइनेंस बैंक की तरफ से 10 लाख रुपये से अधिक और 5 करोड़ रुपये से कम के बैलेंस पर 7.50 फीसदी तक का मैक्जिमम ब्याज ऑफर किया जा रहा है। ये ब्याज की दरैें 13 नवंबर से अमल में लाई गई हैं।

ESAF स्मॉल फाइनेंस बैंक

ESAF स्मॉल फाइनेंस बैंक की तरफ से 5 लाख से ज्यादा के बैलेंस पर 7.50 फीसदी का ब्याज सेविंग खाते पर दिया जा रहा है। बैंक सेविंग खाते की ब्याज दर 3.5 फीसदी से लेकर 7.50 फीसदी के बीच में है। ये ब्याज दर 20 नवंबर 2023 से लागू है।

एयू स्मॉल फाइनेंस बैंक

एयू स्मॉल फाइनेंस बैंक द्वारा 3.5 फीसदी से 7.25 फीसदी की ब्याज ऑफर किया जा रहा है। बैंक की तरफ से सबसे ज्यादा 7.25 फीसदी का ब्याज 1 करोड़ से लेकर 5 करोड़ के कम के बैलेंस दिया जा रहा है। ये ब्याज दरें 11 सितंबर से लागू हैं।

फिनकेयर स्मॉल फाइनेंस बैंक

फिनकेयर स्मॉल फाइनेंस बैंक 3.5 फीसदी से लेकर 7.5 फीसदी का ब्याज सेविंग खाते पर दिया जा रहा है। बैंक के द्वारा 25 लाख से लेकर 10 करोड़ तक के बैलेंस पर 7.50 फीसदी तक का ब्याज पेश किया जा रहा है। ये नई ब्याज दरें दिसंबर के शुरुईत में लागू की गई है।