Meri Kahania

Savings Account: मुश्किल में हैं ये बैंक ग्राहक, सेविंग अकाउंट पर मिल रहा जबरदस्त ब्याज!

देश में ऐसे कई सारे बैंक मौजूद हैं जो ग्राहकों को आकर्षित करने के लिए स्पेशल तरह की Scheme लाते रहते हैं. आम लोगों को भी इससे अच्छा खासा लाभ होता है.
 
Savings Account: मुश्किल में हैं ये बैंक ग्राहक, सेविंग अकाउंट पर मिल रहा जबरदस्त ब्याज!

Meri Kahania, New Delhi: हमने एक List तैयार की है जिसमें ये कहा जा रहा है कि बैंक लोगों को सेविंग खाते पर साधारण ब्याज की अपेक्षा एक्स्ट्रा Interest प्रदान रहा है.

 जिसके बाद ग्राहकों को काफी लाभ मिलेगा. यहां पर Bank में पैसा Deposit करने पर 8 फीसदी की दर से ब्याज दिया जा रहा है.

DCB बैंक Saving Account
DCB बैंक 10 लाख रुपये से लेकर 2 करोड़ तक के बैलेंस पर 8 फीसदी तक का ब्याज दिया जा रहा है. DCB Bank 10 करोड़ से लेकर 200 करोड़ से कम के बैलेंस पर 7.75 फीसदी का Interest प्रदान कर रहा है.

IDFC फर्स्ट बैंक
IDFC फर्स्ट बैंक की ओर से 5 लाख रुपये से लेकर 25 करोड़ से कम के बैलेंस पर 7 फीसदी तक का ब्याज Offer किया जा रहा है. बैंक 3 फीसदी से लेकर 7 फीसदी तक का ब्याज पेश कर रहा है. ये नई ब्याज दरें 1 अक्टूबर 2023 से लागू हो चुकी है .

सर्वोदय स्मॉल फाइनेंस बैंक
सूर्योदय स्मॉल फाइनेंस बैंक की तरफ से 10 लाख रुपये से ज्यादा और 5 करोड़ रुपये से कम के बैलेंस पर 7.50 फीसदी तक का Maximum Interest ऑफर किया जा रहा है. ये ब्याज की Rate 13 नवंबर से प्रभावी हो चुकी है.

ESAF स्मॉल फाइनेंस बैंक
ESAF स्मॉल फाइनेंस बैंक की ओर से 5 लाख से ज्यादा के बैलेंस पर 7.50 फीसदी का ब्याज सेविंग Account पर Offer किया जा रहा है. बैंक सेविंग खाते की ब्याज दर 3.5 फीसदी से लेकर 7.50 फीसदी के बीच में मौजूद है. ये ब्याज दर 20 नवंबर 2023 से लागू हो चुकी है.

एयू स्मॉल फाइनेंस बैंक
एयू स्मॉल फाइनेंस बैंक की तरफ से 3.5 फीसदी से 7.25 फीसदी की ब्याज दिया जा रहा है. बैंक की तरफ से सबसे ज्यादा 7.25 फीसदी का ब्याज 1 करोड़ से लेकर 5 करोड़ के कम की Amount दिया जा रहा है.  ये ब्याज दरें 11 सितंबर से लागू हो चुकी है.

फिनकेयर स्मॉल फाइनेंस बैंक
फिनकेयर स्मॉल फाइनेंस Bank 3.5 फीसदी से लेकर 7.5 फीसदी का Interest सेविंग खाते पर Offer किया जा रहा है. बैंक की तरफ से 25 लाख से लेकर 10 करोड़ तक के बैलेंस पर 7.50 फीसदी तक का ब्याज पेश किया जा रहा है. ये नई ब्याज दरें दिसंबर महीने की शुरुआत में लागू हो चुकी हैं.